May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

करनावल के जंगल में सांड काटने की खबर से मचा हड़कंप,पांच थानों की पुलिस दौड़ी

7mtdsrp-1करनावल के जंगल में सांड काटने की खबर से मचा हड़कंप,पांच थानों की पुलिस दौड़ी
हिंदू संगठनों के लोग लिये फिरते रहे पुलिस को
गांवों के जंगलों की खाक छानी
सरधना (मेरठ): करनावल के जंगल में सांड़ को काटने की सूचना पर पांच थानों की पुलिस दो घंटे तक पांच गांवों के जंगलों की खाक छानी लेकिन गोकशों का कोई सुराग नही लग सका। जिसे लेकर हिंदू संगठनों के लोगों ने भी  पुलिस व पीएसी के साथ में मिलकर जंगलों की काबिंग की लेकिन कुछ पता नही लग पाया। हालांकि गोकशी की सूचना को लेकर पुलिस महकमें में हड़कंप मच रहा और पुलिस दौडती रही। बाद में सुराग न मिल पाने पर पुलिस थक हार कर बैठ गई।
जानकारी के मुताबिक गुरुवार की सुबन लगभग दस बजे के करीब मैनापूठी के कुछ लोगों को करनावल के जंगल में खेडी मार्ग की और से कुछ गोकशों को मैनापूठी गांव के सांड़ को दौडाते हुए ले जाते देखा। जहां गोकश सांड़ को भालो से गोद रहे थे और पीछे-पीछे रस्सी वगैरहा लेकर दौडते हुए खिवाई की और जा रहे थे। यह सूचना गांव वालों ने मैनापूठी के हिंदू संगठनों से जुडे अभिषेक आदि को दी तो उन्होंने भी गोकशों का पीछा करते हुए पुलिस को सूचना कर दी जिसके बाद एसओ सरूरपुर भारी पुलिस बलकर लेकर हिंदू संगठनों के लोगों को साथ लेकर करनावल खिवाई के जंगलों की और दौडे। जहां रास्ते में उन्हें खेतों में काम कर रहे लोगों ने पुष्टि करते हुए बताया कुछ लोग सांड को दौडाते हुए ले जा रहे जो घायलवस्था में था। जिसके बाद मामले की संवेदनशीलात को देखते हुए एसओ ने आला अफसरों का सूचना दी। इसके बाद रोहटा,सरधना,सरूरपुर,कंकंरखेडा व जानी पुलिस मौके के लिये रवाना हो गई और पीएसी भी पहुंच गई जिसके बाद पांच थानों की पुलिस व पीएसी के अलावा कई बाइकों पर पुलिस ने हर्रा,खिवाई,खेड़ी,करनावल व कलीना गांव के जंगलों की  दो घंटों तक खाक छानी और लोगों से पूछताछ करते हुए पुलिस फिरती रही। लेकिन इस दौरान दो घंटे तक चले इस हाईप्रोफाइल ड्रामे के बाद भी पुलिस को कोेई सुराग नही लग पाया जबकि हिंदू संगठनों के लोग पुलिस के साथ मौजूद रहे। इस पूरे सघन चेकिंग आॅपरेशन में पुलिस ने खेतों की भी खाक छानी लेकिन कहीं भी कुछ नही मिल पाया। इसके बाद हिंदू संगठनों के लोगों ने पुलिस से बताया कि गोकश सांड़ को लेकर खिवाई की और चले गए हैं और संभवता वे खिवाई के ही थे। उन्होंने पुलिस को बताया कि गांव का एक सांड़ पहले भी मार दिया गया था। इस बारे में पुलिस से ऐतराज जताया गया कि यदि पुलिस चार दिन पहले करनावल के जंगल में हुई गोकशी के आरोपियों को थाने से जमानत ना देती को शायद आज की घटना की पुनरावृत्ति ना होती।
error: Content is protected !!