May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

दबाव के बाद रोहटा पुलिस ने छोड़ा नाबालिगों को

 दबाव के बाद रोहटा पुलिस ने छोड़ा नाबालिगों को 
सरधना (मेरठ) रोहटा पुलिस द्वारा लूट के आरोप में पकड़ कर लाए गए दोनों नाबालिगों को थाने पर हुए बवाल के बाद आखिर दबाव में आकर छोडना पड़ा । इस मामले में  पुलिस की जहाँ जमकर फजीहत हुई वहीँ अधिकारियों के भी प्रकोप को झेलना पड़ा पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर एसओ को डांट भी लगाई गई ।
रोहटा पुलिस को अपनी ही कारगुजारी पर आखिर मुंह की खानी पड़ी है। शुक्रवार की रात लूट के मामले में रोहटा पुलिस ने दो नाबालिगों को उठा लिया था। जिसके बाद  थाने पर रोहटा के ग्रामीणों ने जमकर बवाल किया था। और रोड़ जाम करते हुए थाने में ही कई महिलाओं ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिडक कर आग लगाने के बाद आत्मदाह करने का प्रयास किया था। इसे लेकर पुलिस की जमकर किरकिरी हुई और शनिवार को पुलिस को दिन निकलते ही दोनों हिरासत में लिये नाबालिगों को जनता के दबाव में छोडना पड़ा था। इेसे लेकर एक और जहां पुलिस को जनता के समाने जमकर फजीहत झेलनी पड़ी थी वहीं अधिकारियों की नजरों में भी पुलिस की जमकर किरकिरी हुई और इसे लेकर बेकफुट पर आई रोहटा पुलिस को अधिकारियों के भी प्रकोप को झेलना पड़ा । जिसके बाद से अब रोहटा पुलिस खिसियानी बिल्ली की तरह से लोगों पर अपने गुस्से की खीझ उतार कर लोगों को उलटा-सीधा धमका रही है। इसे लेकर शनिवार को कई लोगों ने पुलिस की अधिकारियों और मीडिया से शिकायत भी  की। हालांकि इस बारे में रोहटा पुलिस कुछ भी कहने से बच रही है।
error: Content is protected !!