May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का हुआ पर्दाफास

saibar craimनौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का हुआ पर्दाफास 
भारी मात्र में कम्प्यूटर मोबाइल एटीएम कार्ड आदि सामान किया जब्त 

सरधना (मेरठ) नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले गैंग का एसटीएफ व पुलिस टीम ने नोएडा में छापामार कार्यवाई करके पर्दाफास किया है। जहाँ से भारी मात्र में कम्प्यूटर लेपटोप एटीएम कार्ड विभिन्न बैंकों की कॉपी हजारों की नगदी के साथ तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पूछताछ करने के बाद तीनो को जेल भेज दिया है। इससे पूर्व दो युवकों को पकड़ कर जेल भेजा जा चुका है। जानकारी के मुताबिक़ राजस्थान में एक युवक से नौकरी दिलाने के नाम पर हजारों की ढगी की गई थी। जिसने अपने थाना क्षेत्र में इसकी शिकायत की थी साथ ही जिस बैंक खाते में उसने रुपया जमा कराया था वह भी पुलिस को दिया गया था। शिकायत के आधार पर एसटीएफ की टीम ने जाँच पड़ताल की तो गांव दबथुआ निवासी शिवकुमार पुत्र सतेन्द्र के खाते में डेढ़ माह के भीतर 17 लाख से अधिक रुपयों की ट्रान्जेक्शन का मामला सामने आया। राजस्थान की पुलिस ने जनपद मेरठ के एसएसपी को मामले से अवगत कराया गया। जिसके बाद सरधना पुलिस हरकत में आई और दबथुआ निवासी शिवकुमार को गत बुद्धवार की रात में उठा लिया गया और पूछताछ की गई। उसने अपने साथी मनिन्दर पुत्र चांदवीर निवासी अनछाड़ को पकड़ वाया पूछताछ में सामने आया की उक्त दोनों युवक नोएडा की एक कॉल सेन्टर के अंडर में कमीशन पर काम करते है। बताया गया की शिवकुमार ने अपने गांव के एसबीआई में खाता खुलवा रखा है। नोएडा के सेक्टर 63 में स्थित दयाल आई टी कॉल सेंटर के में नौकरी के नाम पर ठगी करने वाला ग्रुप उसके एकाउंट में रूपये डलवाता है जिसके बदले उसे कमीशन मिलता है। बताया गया की उसने अपना खाता बीस हजार में बेचा था जिसका एटीएम कार्ड कॉल सेंटर के मालिक अभिषेक पुत्र धर्मेन्द्र निवासी गांव महरसिया थाना रिगा जिला सीता मढ़ी बिहार ने ख़रीदा था और उसमें आने वाली रकम का कमीशन देता था। जिसमें उसका सहयोगी मनिन्दर था। उक्त से पूछताछ करने के बाद पुलिस ने दोनों को गुरुवार को जेल भेज दिया है। इसके बाद नोएडा सेक्टर 63 स्थित दयाल आईटी कॉल सेन्टर पर छापा मर कार्यवाई की गई जहाँ से पुलिस ने कॉल सेंटर के मालिक अभिषेक के अलावा उसके दो साथी शैलेन्द्र पुत्र अमर सिंह निवासी रामधद कानपुर व अभिषेक पुत्र नरेंद्र निवासी गांव कारीकाण थाना छाता जनपद फतेहपुर को गिरफ्तार किया इनके पास से पुलिस ने 26 कम्प्यूटर दो लेपटोप दो स्टेम्प विभिन्न बैंकों के 27 एटीएम कार्ड 17 चेक बुक 26 मोबाईल व 59 हजार 960 रूपये नगद बरामद किये। पुलिस ने जब उनसे पूछताछ की तो उन्होंने ने अपना गुनाह काबुल कर लिया उन्होंने बताया की नौकरी दिलाने के नाम पर उन्होंने लोगों से लाखों रुपयों की ठगी की है बताया गया की उन्होंने अपने आफिस में लोगों को कॉन्टेक्ट करने के लिए 28 युवक युवतियों को अपने आफिस में रखा हुआ था। पुलिस ने पूछताछ के बाद शुक्रवार को उक्त तीनो को जेल भेज दिया है और आगे की जाँच में जुट गई है।

error: Content is protected !!