May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

बाहरी के विरोध पर नगर पंचायत हर्रा के सफाईकर्मियों ने लामबंदी दिखाते हुए की हड़ताल

बाहरी के विरोध पर नगर पंचायत हर्रा के सफाईकर्मियों ने लामबंदी दिखाते हुए की हड़ताल
बाहरी सफाईकर्मी रखने का कर रहे हैं  विरोध
चेरपर्सन ने गेंद ईओ के पाले में फेंकी
ईओ के अडियल रवैये खफा हुए नगर के बाल्मिकी समाज लोग
सरधना (मेरठ) नगर पंचायत हर्रा में सफाईर्मियों की भर्ती को लेकर कई दिनों से नगर पंचायत में हंगामा चल रहा है इसे लेकर कभी बाहरी सफाईकर्मियों को हटाया जाता है तो कभी लगा लिया जाता है। इसी के विरोध में सोमवार को नगर पंचायत के हर्रा के रहने वाले ज्यादातर सफाईकर्मियों ने लामबंदी दिखाते हएु हडताल कर दी जिससे नगर की सफाई व्यवस्था ठप हो गई लेकिन चेयरपर्सन ने तुंरत व्यवस्था कराते हुए नये सफाईकर्मियों को लगाकर सफाई व्यवस्था बहाल करा दी। इसे लेकर अब चेयरपर्सन ने सफाईकर्मियों की तैनाती व भर्ती की गेंद ईओ के पाले में फेंक दी है ईओ के अडियल रवैया दिखाते हुए हर घर से एक सफाई कर्मी रखने की घोषणा की है।
दरअसल नगर पंचायत हर्रा में काफी समय से ठेके प्रथा पर लगभग बीस बाहरी व कस्बे के सफाई कर्मी कार्य कर रहे थे। जिनमें से नगर पंचायत के गठन के बाद चेयरपर्सन हुस्नों बेगम ने कर्मी को देखते हुए कस्बे के कुछ और सफाईकर्मी तैनात कर दिये थे जिनमें लगभग इस समय में नगर में चालीस सफाईकर्मी कार्य कर रहे थे। लेकिन कस्बे के सफाईकर्मी बाहर सफाईकर्मियों का विरोध कर रहे थे। जिसके चलते हुस्नों बेगम ने हाल में बाहरी ऐसे सफाईकर्मियों की छंटनी कर दी थी जो सही से कार्य नही कर रहे थे। जिसके बाद नगर में लगभग 35 सफाईकर्मी कार्यरत थे। लेकिन अब दो दिन पूर्व कुछ और बाहरी लोगों को विरोध के कारण हटा दिया था। जिसके बाद संख्या कम रह गई थी। लेकिन कस्बे के कार्यरत सफाईकर्मियों का कहना था उनकी संख्या बढ़ाई जाये और बाहरी लोगों को हटाया जाए। इसे लेकर चेयरपर्सन ने भरोसा दिलाया था कि संख्या बढ़ाई जायेगी ओर पहल्ीा प्राथमिकमता कस्बे के लोगों को ही दी जायेगी लेकिन नगर के सफाईकर्मियों ने सोमवार को लामबंदी दिखाते हुए ये कहते हुए सफाई व्यवस्था ठप कर दी कि उनके परिवार के सभी सदस्यों को रखा जाए और दूसरी बिरादरी के लोगों को इसमें जबरदस्ती ना घुसेडा जाए। इस पर चेयरपर्सन हुस्नों बेगम ने भरोसा दिलाया कि वे हर घर से एक सदस्य को सफाईकर्मी तैनात कर देंगी और संख्या बढ़ाने पर आगे भी उन्ही के परिवार के सदस्यों को रखा जायेगा। लेकिन सोमवार को नगर के कार्यरत सफाईकर्मियों ने हर सदस्य को ना रखने का विरोध करते हुए लामबंदी दिखाई और सफाई व्यवस्था ठप करके उपकरण फेंककर चले गये। जिससे नगर की सफाई व्यवस्था ठप पड गई। सूचना पर चेयरपर्सन हुस्नों बेगम ने तुुरंत व्यवस्था सुचारू बनाने के लिये बाहरी सफाईकर्मियों को लगाकर काम कराया। इसके बाद सोमवार को ही हुई बोर्ड बैठक में पहुंचे इओ के पाले में उन्होंने गेंद फेंक दी कि वे सफाईकर्मियों की भर्ती या तैनाती नही करेंगी। जिसके बाद कमान खुद ईओ ने संभाली और नगर के भर्ती व तैनाती के लिये पहुंचे सफाईकर्मियों के विरोध के बाद उन्होंने साफ कह दिया के वे नगर के हर घर से एक सदस्य को रखेंगे सभी को रखना संभव नही है। जिसका नगर के सफाईकर्मियों ने विरोध करते हुए हंगामा कर दिया और भर्ती में नगर के सभी बाल्मिकी सदस्यों को ही रखने की मांग की। लेकिन ईओ शैलेंद्र कुमार ने अडियल रवैया दिखाते  हुए इससे इंकार कर दिया है।
error: Content is protected !!