May 24, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

भगवान् शब्द के मूल मैं जो रहस्य है वह बिलकुल अलग है-भानु प्रकाश

भगवान् शब्द के मूल मैं जो रहस्य है वह बिलकुल अलग है-भानु प्रकाश

सरधना (मेरठ) विधार्थी विकास मंच एवं वरिष्ठ नागरिक कल्याण समिति के संयुक्त तत्वाधान वैदिक एवं वेद महा सम्मलेन के दुसरे दिन भी  भजन व प्रवचनों से पूरा पंडाल भक्तीय हो गया। वेद पराजय मैं आज के यज्ञकर्ता निरंजन शास्त्री थे। सुभाष प्रधान महाराज सिंह,राकेश व शिवपाल ने आहुति देकर हवं संपन्न कराया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मेजर डॉ हिमांशु रहे। तथा संस्था अध्यक्ष ने संयुक्त रूप से क्षेत्र के मेधावी छात्रों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। सम्मानित छात्रों नमें सौरभ सोम,पुलकित सोम,शालू सोम,हर्षित सोम रहे। भानु प्रकाश भजनोपदेशक बरेली ने ने बताया कि भगवान् के नाम का स्मरण करने से हमारी आँखों के सामने भगवान् शब्द के मूल मैं जो रहस्य है वह बिलकुल अलग है।भगवान् शब्द पांच अक्षरों से बना है इन पांचो अक्षरों का महत्त्व है भ से भूमि ग से गगन व् से वायु अ से अग्नि व न से नीर है।

error: Content is protected !!