May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

मकान में लगी आग से हजारों का सामान जला, दो पशुओं की मौत

मकान में लगी आग से हजारों का सामान जला, दो पशुओं की मौत
सरधना (मेरठ) रविवार को जसड़ गांव में एक मकान में आग लगने के कारण घर का सारा सामान जलकर राख हो गया जबकि दो मवेशियों की भी जलने से मौत हो गई। इसे लेकर गरीब परिवार में हा हाकार मचा हुआ है और ग्रामीणों ने प्रशासन से मुआवजा दिलाने की मांग की है।
जानकारी के मुताबिक गांवजलसे में उलेमाओं ने की नबी के बताये रास्ते पर जिन्दगी गुजारने को कहा
सरधना (मेरठ) रविवार को हर्रा के मदरसा जामिया उम्मे सलमा लिल बनात में दिन रात्री के सालाना जलसे का आयोजन किया गया। जिसमें उलामा ने बयान करते हुए अपनी जिन्दगी को नबी के बताये रास्ते पर गुजारने का आह्वान किया। इस दौरान कई बच्चों की दस्तार बंदी भी की गयी।
शनिवार रात शुरू हुए दिन रात्री के सालाना जल्से की शुरूआत मदरसे की छात्रा निसा ने कुरान शरीफ की तिलावत करके की,इसके बाद कारी मुजम्मिल ने नाअत पेश की। इस दौरान महिला आलिमा नसरीन ने जलसे को खिताब करते हुए कहा कि औरतों को पर्दे का खास अहतमाम करना चाहिये। साथ ही उन्होनें लड़कियों की तालीम पर भी जोर दिया। वहीं जसड़ से तशरीफ लाये मौलाना शकील शादी में होने वाले फुजूल खर्च को रोकने के बारे में बताते हुए कहा कि आज हम शादी में न जाने कितना पैसा फुजूल खर्च करते हैं। मौलाना ने कहा कि दहेज के नाम पर न जाने कितनी गरीब लडकियां शादी का इंतजार कर रही हैं। जिससे समाज में बुराई जन्म ले रही है। दहेज प्रथा को खत्म करके नबी के तरीके पर अपनी बेटियों की शादियां करनी चाहियें। आखिर में मौलाना ने मुल्क में अमनों अमान के लिए दुआ कराई। इस मौके पर बीस लड़कियों की दस्तारबंदी की गई। जल्से की अध्यक्ष्ता हाफिज शमसाद ने व संचालन मौलाना मसीहउल्लाह ने किया। इस दौरान मदरसे के मोहतमिम मौलाना मसीउहल्लाह, मौलाना खालिक, मौलाना हुसैन, कारी इमरान, कारी नूर मौहम्मद, मौलाना फरमान, कारी यासीन आदि मौजूद रहे। जसड़ सुल्तान नगर में हसन पुत्र शौकत रात में परिवार सहित एक कमरे में सोया हुआ था जबकि दूसरे कमरे में उसेक मवेशी बंधे हुए थे। रात में किसी समय अचानक रहस्मयी तरीके से लग आग से मकान में आक लग गई और देखते ही देखते दोनों कमरों में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इसके बाद परिवार ने जैसे-तैसे अपनी जान बचाई लेकिन जब तक मकान में रखा सारा घर का सामान जलकर राख हो गया। इसके अलावा दूसरे कमरे में बंधे पशुओं को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया और आग से मकान में बंधे कई पशु झुलस गए । जिन्हें बचाने के लिये प्रयास किया गया लेकिन फिर भी झुलस गए। जिनमें से दो मवेशी मौत हो गई जबकि बाकि की हालत खराब बनी हुई है। इसे लेकर ग्रामीणों ने बताया कि परिवार बेहद गरीब है और मुआवजे की मांग करते हुए लेखपाल को बुलाया गया। जहां लेखपाल ने रिपोर्ट बनाकर प्रशासन को भेज दी है।

error: Content is protected !!