May 24, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

सरधना में भैसा लूटने के बाद किसान को उतारा मौत के घाट

bhensaसरधना में भैसा लूटने के बाद किसान को उतारा मौत के घाट 
किसान की हत्या के बाद लोगों ने सरधना कुशावली मार्ग पर लगाया जाम 
भाजपा विधायक संगीत सोम ने पुलिस को सुनाई खरी खोटी 

सरधना (मेरठ) भैंसा बुग्गी से खेतों पर चारा लेने गए किसान से भैंसा लूटने के बाद उसकी हत्या करदी गई है। किसान की हत्या की सूचना पर सैकड़ों ग्रामीण घटना स्थल की और दौड़ पड़े मामले की जानकारी मिलने पर भाजपा विधायक भी सैकड़ों लोगों के साथ वहां पहुंचे इसी के साथ हत्या व लूट की जानकारी मिलने पर पुलिस महकमें में भी हड़कंप मच गया सीओ व एसपी देहात के अलावा एडीएम भी भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ घटना स्थल पहुंचे और मामले की जानकारी ली। इस हत्या के बाद जमा भरी भीड़ ने दूसरे संप्रदाय को निशाना बनाते हुए माहौल को गरमाने की कौशिस की भरी मशक्कत के बाद अधिकारी भीड़ को समझाने में कामयाब हो सके जिसके बाद शव का पंचनामा भर के पीएम के लिए भेजा गया इस संबंध में मृतक के बेटे ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। जानकारी के मुताबिक़ गांव कुशावली निवासी कृपाल गडरिया 55 वर्ष पुत्र मामचंद बुद्धवार की दोपहर में सरधना कुशावली मार्ग पर अपने खेतों से चारा लेने के लिए भैसा बुग्गी लेकर आया था। उसी समय अज्ञात बदमाशों ने भैसां लूटने के बाद विरोध करने पर कृपाल को पीटपीट कर मौत के घाट उतार दिया। उसी समय खेतों में काम करने गए कुछ लोगों ने कृपाल को लहूलुहान हालत में पड़ा देखा। कृपाल की हत्या की भनक पर सैकड़ों ग्रामीण घटना स्थल की और दौड़ पड़े इसी के साथ भाजपा विधायक संगीत सोम को भी घटना की जानकारी मिल गई उस समय उनके आवास पर सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे विधायक का काफला भी तुरंत घटना स्थल पहुँच गया हत्या की सूचना पर पुलिस महकमें में भी हड़कंप मच गया उस समय एडीएम दिनेश चंद व एसपी देहात डॉ प्रवीण रंजन भी सरधना में ही मौजूद थे पहले घटना स्थल सीओ सरधना बृजेश कुमार पहुंचे जिसके बाद वहां के हालात गरम होने की जानकारी पर दोनों अधिकारी भरी पुलिस फ़ोर्स के साथ वहां पहुंचे। वहां एकात्रित भीड़ पास के ही गांव नवाबगढ़ी के लोगों पर लूट व हत्या करने का आरोप लगा रहे थे साथ ही दूसरे संप्रदाय के लोगों के खिलाफ भड़ास निकल रहे थे। इस तनाव पूर्ण हालात को अधिकारियों ने बड़ी मुश्किल से काबू किया और घटना को अंजाम देने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाई का आश्वासन दिया। जिसके बाद शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज गया। इस संबंध में मृतक के पुत्र मोहन ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। हत्यारों का सुराग लगाने के लिए डॉग स्क्वायड टीम भी मौके पर पहुंची और जाँच पड़ताल की समाचार लिखे जाने तक अधिकारी कुशावली गांव में ही डटे हुए थे।

error: Content is protected !!