May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

हिंदू धर्म विरोधी नारे लगाने वालो की धरपकड़ के लिए दबिशें जारी

26srd3हिंदू धर्म विरोधी नारे लगाने वालो की धरपकड़ के लिए दबिशें जारी 
मुख्य आरोपी को किया पुलिस ने गिरफ्तार पूछताछ के बाद भेजा जेल 
इस मामले को लेकर शुक्रवार को भी चौकन्ने नजर आए पुलिस प्रशासनिक अधिकारी 
एसपी देहात भी घंटो डटे रहे थाने पर 
सरधना (मेरठ)  बुधवार को आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के तत्वाधान में हरियाणा में दलित युवक की हत्या पर विरोध जताते हुए पुलिस चौकी पर जाम लगाते हुए प्रदर्शन किया गया था । विरोध प्रदर्शन मेें हिंदू विरोधी नारेबाजी से माहौल गर्मा गया था । जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने उसी रात आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। गुरुवार को हिन्दू संगठनो से जुड़े लोग सड़कों पर उतरे थे जिन्होंने मुख्य्य आरोपी वलीउर्रहमान की गिरफ़्तारी की मांग की थी।
बतादें की बुधवार को नगर के मोहल्ला भाटवाड़ा स्थित अंबेडकर धर्मशाला में आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के तत्वाधान में एक बैठक का आयोजन किया गया था । जिसमें वक्ताओं ने जनपद मुजफ्फरनगर के लोई गांव निवासी युवक कुलदीप की हरियाणा मेें आरक्षण की मांग कर रहे लोगों द्वारा की गई निर्मम हत्या पर विरोध जताया गया। बैठक के बाद नारेबाजी करते हुए आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के पदाधिकारी व कार्यकर्ता पुलिस चौकी चौराहे पर पहुंचे तथा जाम लगाते हुए नारेबाजी शुरू कर दी थी । बताया गया कि इसी दौरान प्रदर्शन में शामिल कुछ युवको ने  हिंदू धर्म के खिलाफ नारेबाजी भी की थी ।जब इस संबंध में आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के पदाधिकारियों से बात की गई तो उन्होंनेे बताया कि प्रदर्शन के दौरान उत्तेजक नारेबाजी से उनका कोई लेना देना नहीं है तथा ना ही उनके कार्यकर्ताओं ने इस तरह की नारेबाजी की है।  जिसके बाद सक्रीय हुए हिंदू संगठनो से जुड़े लोगों ने हिन्दू धर्म के खिलाफ नारेबाजी करने वालों लोगों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की मांग की थी। जिसके बाद पुलिस ने बुद्धवार की रात को ही आरक्षण बचाओ संघर्ष मोर्चा के तहसील अध्यक्ष अमित गौतम ,गौरव पार्चा व वलीउर्रहमान सहित आठ लोगों के खिलाफ धारा 143/153/188/341 में मुकदमा दर्ज कर दिया था। गुरुवार को विभिन्न हिन्दू संगठनो से जुड़े लोग आरोपियों की गिरफ़्तारी को लेकर थाने पहुंचे थे । यहाँ मौजूद सीओ बृजेश कुमार सिंह व तहसीलदार रंजीत कुमार ने लोगों को समझकर शांत किया अधिकारीयों ने आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए दो दिनों का समय दिया था । इसके बाद एसपी देहात भी सरधना पहुंचे और मामले की जानकारी ली थी। पुलिस ने शुक्रवार को मुख्य आरोपी माने गए वलीउर्रहमान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
error: Content is protected !!