May 22, 2024

Sahi Khabar

Let's Know The Truth

हर्रा में बुखार से लगातार मौतों पर आखिर टूटी स्वास्थ्य विभाग की नींद खुद सीएमओ पहुंचे अमले के साथ

hraहर्रा में बुखार से लगातार मौतों पर आखिर टूटी स्वास्थ्य विभाग की नींद खुद सीएमओ पहुंचे अमले के साथ 
सरधना (मेरठ) हर्रा में फैले बुखार से रविवार को हुई तीन मौतों की खबर समाचार पत्रों में छपने के बाद आखिरकार स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया और पूरा महकमा हिल गया। प्रशासन की दाब और स्थानिय विधायक के हस्तक्षेप पर खुद सीएम ओ भारी अमला लेकर कस्बे में पहुंचे और हालातों का जयजा लेकर जानकारी हासिल की। जिसके बाद गांव में स्वास्थ्य कैंप लगाकर लोगों की जांच की गई और उन्हें दवार्इंयां बांटकर बचाव के तौर तरीके बताए और सफाई रखने की हिदायत दी। इसे लेकर चेते विभाग ने अब कस्बे में लगातार केंप लगाने का पुख्ता इंतजाम कर लिया है और लोगों का रोजान दवार्इंयां बांटी जाएंगी।  इसके अलावा साफ-सफाई कराने के लिये भी प्रशासन ने तैयारी कर ली है।
 हर्रा कस्बे में बुखार से लगातार मौतें होने के बाद स्वास्थ्य विभाग की हिलाहवाली की खबर समाचार पत्रों में छपने के बाद आखिरकार गहरी नींद में सोया हुआ स्वास्थ्य विभाग जग गया है। इसे लेकर नीचे से ऊपर तक हड़कं प मच गया और खुद सीएमओ राकेश चौधरी डिप्टी सीएमओ शरद त्यागी टीम व लाव लश्कर के साथ में कस्बे में पहुंचे। जहां पहले अधिकारियों ने मरने वालों के यहां जाकर उनसे जानकारी ली और हालातों का जायजा लेकर पुख्ता इंतजाम करने का भरोसा दिलाया। स्थानिय विधायक गुलाम मोहम्मद व मीडिया की किरकिरी के बाद कस्बे में पहुंचे महकमें के अफसरों को ग्रामीणों ने खूब खरी खरी भी सुनाई और लोगों के लगातार मरने के लिये उन्हें जिम्मेदार ठहराया। इसके बाद विधायक व पूर्व प्रमुख राजेंद्र सिंह के साथ अफसरों ने ग्रामीणों के साथ बैठक की और साफ-सफाई कराने के लिये प्लान तैयार करके प्रशासन से कराने की बात कही जबकि कस्बे के हर मौहल्ले में लगातार रोजाना बीमारी समाप्त होने तक शिविर लगाकर बुखार की दवार्इंयां बांटने की घोषणा की और कहा कि बुखार पीड़ितों की जांच भी की जाएगी जिसके बाद उन्हें दवाई दी जा सके। इसके अलावा लोगों को साफ-सफाई रखने की हिदायत भी दी और किसी भी इरजेंसी में एम्बुलेंस को कॉल करने को कहा। पूरे कस्बे में अफसरों ने विधायक के साथ में घूमकर जायजा लिया और हालातों से रुबरु हुए। इस दौरान कस्बे में डेरियों के कारण फैली भारी गंदगी को मुख्य वज मानते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई कराने को भी कहा गया है। लगातार अखबारों की सुर्खियां और मौतें होने के बाद चेते स्वास्थ्य विभाग ने दवाई बांटने के साथ-साथ स्लाइड बनाने व कस्बे में हर गली मोहल्ले में फांगिग कराने को भी कहा है इसके लिये मशीन मंगाई गई है। इसके अलावा भी विभाग ने हर जरूरी कदम उठाने की बात कहते हुए ग्रामीणों को संभाला है और बुखार में बिना सरकारी चिकित्सक को दिखाए बिना दवाई लेने की भी नसीहत दी है। इसे लेकर गुस्से में चल रहे ग्रामीणों ने अफसरों के आने के बाद उनसे समस्साएं रखकर ऐतराज जताया कि पीएचसी सरूरपुर महिला चिकित्सक नोएडा व गाजियाबाद से आती हैं जो दस बजे आती हैं और एक बजे चली जाती हैं यह भी आरोप लगाया गया कि वे मरीजों से रोजाना उलझती भी हैं और पीएचसी पर दो बजे के बाद कोई नही मिलता है। इसे लेकर विधायक ने प्रभारी को जमकर हड़काया और व्यवस्था सुधारने को कहा है।
error: Content is protected !!